August 17, 2017 5:21 pm

नौईं नौईं योजना म्हारी सरकारे चलाई

बरशैणी और भलाण में लोक कलाकारों ने बताईं सरकारी योजनाएं
कुल्लू (हिमाचल न्यूज़) प्रदेश सरकार की चार वर्ष की उपलब्धियों और विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी आम जनता तक IMG_20170419_131529पहुंचाने के लिए सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा चलाए जा रहे विशेष प्रचार अभियान के तहत बुधवार को कुल्लू विधानसभा क्षेत्र के गांव बरशैणी व रासकट और बंजार विस क्षेत्र के गांव धारा व भलाण में जागरुकता कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। बरशैणी व रासकट में सूचना एवं जनसंपर्क विभाग से संबद्ध मन्नत कला मंच और धारा व भलाण में अनुशिका कला मंच के लोक कलाकारों ने लोकगीतों व नाटक के माध्यम से लोगों को कई महत्वपूर्ण योजनाओं से अवगत करवाया।
   इन लोक कलाकारों ने प्रदेश सरकार की कौशल विकास भत्ता योजना, सामाजिक सुरक्षा पैंशन, स्कूली बच्चों के लिए मुफ्त वर्दी व बस यात्रा सुविधा, मुख्यमंत्री खेत संरक्षण योजना, इंदिरा आवास व राजीव आवास योजना, 108 एंबुलैंस सेवा, 102 जननी एक्सप्रैस सेवा और कई अन्य योजनाओं की जानकारी दी।
  बरशैणी व रासकट में मन्नत कला मंच के कलाकारों खूब राम, रमेश कुमार, मानचंद, अमित, प्रदीप, तीर्थराम, काजल, चम्पा, कांता, कुशाल द्वारा समूहगीत ‘चार साल के कार्यकाल में प्रगति बेमिसाल’, लोकगीत ‘हिमाचल हुआ खुशहाल लागे बोलदे सारे’,‘नौईं नौईं योजना म्हारी सरकारे चलाई’, व लोकनाट्य, ‘टाउणे मामे री फांडा’ के माध्यम से बेहतरीन प्रस्तुति देते हुए सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के बारे विस्तार से जानकारी दी। कार्यक्रम के दौरान बरशैणी पंचायत के प्रधान जयराम ठाकुर, उपप्रधान पंचायत के पंचायत सचिव, महिला एवं युवक मण्डलों के सदस्यों व अन्य ग्रामिणों ने भी बडी संख्या में भाग लिया और सरकार की कल्याणकारी योजनाओं की जानकारियां हासिल की। इसी तरह बंजार विस क्षेत्र के गांव धारा व भलाण में भी स्थानीय लोग अनुशिका कला मंच के कलाकारों की प्रस्तुतियों से विभिन्न योजनाओं व सरकार की उपलब्धियों से रूबरू हुए।
                जिला लोक सम्पर्क अधिकारी शेर सिंह ने विशेष प्रचार अभियान की जानकारी देते हुए बताया कि राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही मुख्यमंत्री खेत सरंक्षण योजना जिसके तहत फसलों को जंगली जानवरों व आवारा पशुओं से बचाने के लिए सौर ऊर्जा बाड़ लगाने हेतू दी जाने वाली अनुदान राशि को 60 प्रतिशत से बढ़ाकर 80 प्रतिशत कर दिया गया हैं। सरकार ने मुख्यमंत्री ग्रीन हाउस परिवर्धन योजना के तहत 5 वर्ष के बाद या आपदा से क्षतिग्रस्त पाॅली हाउस शीट्स बदलने के लिए 50 प्रतिशत का अनुदान देने का निर्णय किया हैंै। पंचायत पशुधन योजना के तहत आवारा पशुओं से मुक्त सर्वोतम पंचायतों को 5 लाख रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा। फलों को ओलों से बचाने के लिए ओल-अवरोधक जालियों पर 80 प्रतिशत का अनुदान दिया जा रहा हैं।

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *