December 11, 2017 6:33 pm

सीबीआई को हाई कोर्ट ने 20 दिसंबर को फाइनल जांच रिपोर्ट सौंपने की दी मोहलत

शिमला . हिमाचल हाई कोर्ट ने कोटखाई छात्रा गैंगरेप व मर्डर मिस्ट्री की जांच के लिए सीबीआई को और वक्त दिया है। सीबीआई ने हाई कोर्ट hp-high-court1में इस मामले की स्टेटस रिपोर्ट दायर की, इस पर हाई कोर्ट ने संतोष जाहिर किया। जांच एजेंसी को अब 20 दिसंबर को कोर्ट में इस मामले की पूरी जांट रिपोर्ट पेश करनी होगी। बहुचर्चित कोटखाई छात्रा रेप और हत्या मामले की बुधवार को हाई कोर्ट में सीबीआई ने स्टेटस रिपोर्ट दायर की। सीबीआई की इस 70 पन्नों की विस्तृत रिपोर्ट को तीन भागों में बांटा गया था। कार्यकारी न्यायाधीश संजय करोल एवं न्यायाधीश संदीप शर्मा की खंडपीठ ने मामले की सुनवाई करते हुए सीबीआई से पूछा कि तीन महीने बाद भी वह चालान क्यों पेश नहीं कर पाई है। इस पर सीबीआई ने कहा कि स्टेटस रिपोर्ट में जो लोग संदेह के घेरे में हैं, उनका जिक्र किया गया है। वहीं, पुलिस हिरासत में आरोपी सूरज की मौत की चार्टशीट तैयार की गई है, जो कि 90 दिन के भीतर पेश कर दी जाएगी। इस पर हाई कोर्ट ने संतोष जताकर सीबीआई की पीठ थपथपाई है। हालांकि सुनवाई के दौरान कोर्ट का कहना था कि जन भावनाओं को देखते हुए रिपोर्ट को सार्वजनिक किया जाना चाहिए। इस पर सीबीआई ने रिपोर्ट को फिलहाल सार्वजनिक न करने की गुहार लगाई, जिसे कोर्ट ने मान लिया। सीबीआई ने कहा कि मामले को सुलझाने के लिए उसकी जांच सही दिशा में आगे बढ़ रही है, इसलिए उसको और वक्त दिया जाना चाहिए। इसे देखते हुए हाई कोर्ट ने सीबीआई को 20 दिसंबर तक अंतिम स्टेटस रिपोर्ट पेश करने की मोहलत दी है। इससे पहले 11 अक्तूबर को हुई सुनवाई के दौरान कोर्ट ने सीबीआई को जांच के लिए 25 अक्तूबर तक का समय दिया था। तब जांच एजेंसी की ओर से अदालत के समक्ष यह दलील दी गई थी कि इस मामले में अभी ब्रेन मैपिंग और अन्य रिपोर्ट कुछ और वक्त लगेगा।

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *