October 24, 2017 9:47 am

Interview में बातचीत करने के विशेष नियम

ऐसे शब्दों एवं विचारों को प्रकट न करें, जो विषय से अलग हों अथवा जिसे बोर्ड के सदस्य सुनना पसन्द नहीं करेंगे।
स्वर में न तो अधिक तीव्रता हो, न ही उत्तेजना अथवा अस्पष्टता।
असभ्य भाषा या द्विअर्थी संवादों का प्रयोग न करें।
अपने विचारों को जबरन दूसरों पर न थोपें।
सामने वाले की आंखों-से-आंखें मिलाकर बात करें।
ध्यान रहे-आंखें मटकाना विषय से भटकना है।
दूसरे की बात को बीच में न काटें। पहले उसे अपनी बात पूरी करने दें, तभी बोलें।
बातचीत informal से हो।
आप सुनने और बोलने से सन्तुलन रखें।
किसी की बात से असहमति की दशा में कभी क्रोधित या उत्तेजित न हों।
वार्तालाप के समय अपनी अंगूठी उताराना और फिर पहनना, कंधे उचकाना आदि जैसी अवांछनीय हरकतों से दूर रहें।
वार्तालाप के बीच अपना चश्मा उतारकर मेज पर रखना, रूमाल से मुंह को पोंछना आदि जैसी असभ्यता का परिचय न दें।
बातचीत के समय इधर.उधर न झांकें।
आपका चेहरा मुस्कान की ताजगी से भरा हो।
साक्षात्कार.कक्ष में प्रवेश करते समय और बातचीत की समाप्ति पर अभिवादन करे।

निम्न बातों पर भी आपका ध्यान रहें

साक्षात्कार के लिए जरूरी है एक अच्छा और संतुलित बायोडाटा। इसके बाद आती है। आपकी ड्ेस और फिर खुद को पेश करने का तरीका।
इंटरव्यू बोर्ड के सम्मुख जाने से पहले सफल होने का मानसिक रिहर्सल कर लीजिए। इसके निरन्तर अभ्यास से व्यक्तित्व मजबूत बनता है और इससे इंटरव्यू में सफलता के अवसर बढ़ जाते हैं। अच्छा तो यह रहेगा कि आप किसी परिचित सीनियर एक्जीक्यूटिव से मॉक इंटरव्यू लेने को कहे। वह गंभीरतापूर्वक आपसे सवाल पूछें और उसी गंभीरता से आप जबाब दें।
काल लेटर मिलते ही अपने मित्रों, परिजनों एवं अनुभवी लोगों के अनुभव का लाभ लें, नियमित समाचार-पत्र, पत्रिकाएं पढें़ एवं समाचार बुलेटिन सुनें। जिस पद के लिए आप इंटरव्यू देने जा रहे हैं, उससे संबंधित पूर्व सफल प्रत्याशियों के इंटरव्यू पढ़ें।
अपनी व्यक्तिगत रुचियां, पढ़ाई, सामयिक विषयों, आप के निवास वाले शहर एवं राज्य की भौगोलिक स्थिति, पर्यटन की सम्भावना तथा ऐतिहासिक जानकारियां हासिल करें क्योंकि बोर्ड द्वारा ऐसे प्रश्न अकसर ही पूछे जाते हैं।
बायोडाटा को फाइल में सबसे उपर रखें, उसमें लिखी बातों के समर्थन में सारे प्रमाणपत्र उसके साथ क्रमवार रखें। अपनी शैक्षणिक योग्यता के प्रमाणपत्र/अंकपत्र भी क्रमबद्ध रखें।
इंटरव्यू के लिए बहुत भड़कीले या गहरे रंग के कपड़े न पहनें। ये आंखों को चुभने लगते हैं। इंटरव्यू में पुरूष सूट, टाई तथा महिलाएं साड़ी पहनें तो ज्यादा अच्छा होगा। पुरूषों की शर्ट का रंग हलका गुलाबी, नीला, सफेद या बादामी तथा महिलाओं की साड़ियों का रंग हलका गुलाबी, नीला या हरा उपयुक्त होगा। युवितियां इंटरव्यू हेतु सलवार-सूट का प्रयोग कर सकती हैं। परन्तु वे यह ध्यान रखें कि सलवारसूट में बहुत सितारे या कढ़ाई न हो। सलवारसूट के साथ दुपट्टे का विशेष ख्याल रखें।
यदि आप सिक्ख हैं तो अप की पगड़ी साफ एवं कलफ लगी तथा ठीक ढंग से बंधी हो. पगड़ी का रंग आप के शेष पहनावे से मिलता.जुलता हो तो ज्यादा अच्छा हो। आप अपने पास एक रूमाल अवश्य रखें। कपड़ों में तेज परफयूम का प्रयोग न करें। जूतों पर अच्छी तरह से पालिश की होनी चाहिए। यदि जूते काले रंग के फीते वाले हों तो उन का प्रयोग ज्यादा अच्छा होगा।
यदि आप निर्देशित स्थान से पूर्व परिचित हैं तो कम से कम 15 मिनट पहले वहां पहुंचने की कोशिश करें। यदि स्थान अपरिचित हैं तो इंटरव्यू वाले दिन से पहले उसे देख आएं या आधा घंटा पहले पहुंचने की कोशिश करें। संभव है, वहां जा कर सम्बन्धित कार्यालय खोजने में आप को कुछ समय लग जाए।

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *